Javascript not enabled
एसपी के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग - Ahirwal Today

वकील ने एसपी पर विरोधी पक्ष के वकील के साथ षड्यंत्र में शामिल होकर केस दर्ज करने का लगाया आरोप वीडियो। वायरल किए जाने पर भी साजबाज होने का आरोप लगाया।

धर्म नारायण शर्मा। नारनौल

 

नारनौल जिला बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं के विरूद्ध मुकदमा दर्ज करने के मामले में पिछले तीन दिनों से अदालती कार्रवाई का बहिष्कार करते आ रहे वकीलों के मामले में अब नया मोड़ आ रहा है।

बदले घटनाक्रम में जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मनीष वशिष्ठ एडवोकेट ने पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण, एसएचओ थाना शहर सुरेन्द्र सिंह, मुख्य सिपाही रामकुमार, अधिवक्ता पर हमला करने वाले संदीप यादव घाटासेर व अन्य अज्ञात व्यक्तियों के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 166, 166ए, 211, 217, 218, 469,120बी व धारा 66 ई व 72आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करने के लिए थानाधिकारी, थाना शहर, नारनौल की विभागीय ईमेल पर शिकायत भेजी है।

 इस मामले में अधिवक्ता मनीष वशिष्ठ का कहना है कि पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण, निरीक्षक सुरेन्द्र सिंह एसएचओ, मुख्य सिपाही रामकुमार ने संदीप के साथ आपराधिक षड़यन्त्र में लिप्त होकर, उसे व उसके साथी अधिवक्ताओं को झूठे मुकदमें में फंसाने के लिए कानून के प्रावधानों का उल्लघंन किया है तथा अपने गलत कृत्य को छुपाने के लिए किसी कथित सीसीटीवी फुटेज को व्यापक स्तर पर वायरल किया है।

बता दें कि  अदालत परिसर में विरोधी पक्ष के मुव्वकील ने जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मनीष वशिष्ठ के साथ मारपीट का मामला सामने आने के बाद उपजे विवाद में अधिवक्ताओं के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किए जाने से जिला बार एसोसिएशन नारनौल के अधिवक्ता पूर्ण रूप से न्यायिक कार्य से विरक्त हैं तथा उनके समर्थन में तीन दिन से महेन्द्रगढ़ बार एसोसिएशन तथा एक दिन कनीना बार एसोसिएशन ने भी न्यायिक कार्य नहीं किया है। बीते रोज अधिवक्ताओं ने भारी संख्या में एकत्रित होकर पुलिस अधीक्षक के विरूद्ध नारेबाजी करके, जिलाधीश को ज्ञापन दिया है।

You Might Also Like

0 Comments

Leave A Comment

Please login to comment on this news

Featured News