Javascript not enabled
पूर्व सांसद राव मानसिंह के पुत्र ने दी राजनीति की चौखट पर दस्तक - Ahirwal Today

बिजली निगम के एससी पद से सेवानिवृत हुए सुखविंदर सिंह यादव 7 को दिखाएंगे राजनीतिक ताकत। कांग्रेस में भी अनेक ने बढाई सक्रियता।

धर्मनारायण शर्मा। नारनौल

हरियाणा विधानसभा चुनाव होने में अभी 10 महीने का समय शेष है, लेकिन नारनौल विधानसभा क्षेत्र में इस चुनाव को लेकर राजनीतिक गतिविधियां अभी से तेजी पकड़ने लगी है। विभिन्न दलों के नेता अपने आपको चुनावी उम्मीदवार मानकर जनसंपर्क अभियान चला रहे हैं तो कुछ प्रशासनिक व सरकारी क्षेत्र में नौकरी करने के बाद सेवानिवृत हुए अधिकारियों ने भी अब राजनीति के मैदान में उतरकर अपनी किस्मत आजमाने का निर्णय लिया है।

अभी दो दिन पहले ही नांगल चौधरी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की टिकट की उम्मीदवारी की उम्मीद लेकर सेवानिवृत आईएएस अधिकारी विनय कुमार यादव ने कांग्रेस का दामन थामा तो शुक्रवार को नारनौल विधानसभा क्षेत्र में भी दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम से अधीक्षण अभियंता के पद से सेवानिवृत हुए पूर्व राज्यसभा सांसद व आईपीएस अधिकारी राव मानसिंह के बेटे सुखविंदर सिंह ने चुनावी राजनीति में सक्रिय होने का ऐलान कर दिया। कुछ माह पहले ही सेवानिवृत हुए सुखविंदर यादव ने शुक्रवार अपनी राजनीतिक पारी की जानकारी देते हुए कहा कि वह पिछले कुछ महीनो से नारनौल विधानसभा क्षेत्र के लगभग सभी गांव और शहरी क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान चलते आए हैं। अब उन्होंने नए सिरे से इस अभियान में तेजी लाने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि वह चुनावी राजनीति करेंगे, लेकिन इसके लिए वे किस दल में शामिल होंगे या निर्दलीय के तौर पर ही चुनाव मैदान में उतरेंगे, इसका निर्णय वे इलाके के अपने कार्यकर्ताओं के विचार विमर्श के बाद ही बता सकेंगे। इसके लिए वह 7 जनवरी को नारनौल विधानसभा क्षेत्र के गांव डोहर कला में अनेक गांवों का कार्यकर्ता सम्मेलन करेंगे। जब उनसे यह जानने की कोशिश की गई कि वे कि उनके पिता इंडियन नेशनल लोकदल से राज्यसभा सांसद थे तो क्या वह इनेलो से ही अपना राजनीतिक जीवन प्रारंभ करेंगे तो उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कोई फैसला नहीं दिया है। यह निर्णय भी उनके कार्यकर्ताओं के द्वारा ही लिया जाना है और उसे फैसले के अनुरूपी हुए आगामी कार्य योजना तैयार करेंगे। उन्होंने बताया कि उन्हें लोगों का पूरा सहयोग और समर्थन मिल रहा है। उनके पिता के कार्यकर्त्ता भी जो अब तक दूसरी पार्टियों के साथ जुड़े हुए थे, हमारे साथ वापस जुड़ रहे हैं।

नारनौल हल्के में कांग्रेस में है सबसे ज्यादा हलचल

बता दें कि सुखविंदर सिंह यादव नारनौल के नजदीकी गांव नीरपुर के है। यह गांव अब नगर परिषद में शामिल हो चुका है। इसी गांव से सेवानिवृत्ति जिला एवं सत्र न्यायाधीश राकेश यादव का भी संबंध है। वह भी कुछ महीने पहले ही कांग्रेस ज्वाइन कर चुके हैं और नारनौल हल्के से कांग्रेस पार्टी से टिकट पाने वालों की लाइन में खड़े हैं। हुडा धड़े से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर कांग्रेस की टिकट का दावा करने वाले दिनेश शर्मा उर्फ पालाराम ने भी अपनी राजनीतिक गतिविधियां बढ़ा दी हैं। वह भी पार्टी के हाथ जोड़ो अभियान को लगातार विधानसभा क्षेत्र में चलाए हुए हैं। दूसरी ओर एसआरके यानी शैलजा, रणदीप, किरण चौधरी ग्रुप की ओर से और जिला प्रमुख राम सिंह यादव भी लगातार जनसंपर्क अभियान चलाए हुए है। वे खुद के लिए या अपने पुत्रवधू डॉक्टर राज सुनेश यादव के लिए इस पार्टी की टिकट पाने वालों की दौड़ में है। कांग्रेस में इसके अलावा अनेक और चेहरे भी उम्मीदवारी की कतार में खड़े हुए हैं क्योंकि यहां से पूर्व में उम्मीदवार रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री राव नरेंद्र सिंह ने दोबारा से अटेली विधानसभा क्षेत्र में अपनी राजनीतिक गतिविधियां बढ़ा दी है। वह वहां टिकट पाना चाहते हैं।   राव दान सिंह समर्थक संजय पटीकरा ने भी अपनी दावेदारी मजबूत की हुई है।

 

You Might Also Like

0 Comments

Leave A Comment

Please login to comment on this news

Featured News