Javascript not enabled
मनोहर लाल खट्टर बनेंगे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ? - Ahirwal Today

जेपी नड्डा से वार्ता के बाद अमित शाह से हुई मुलाकात। फिर तीनों मोदी से मिलने पहुंचे।

धर्मनारायण शर्मा। नारनौल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र में तीसरी बार सरकार बनाने जा रहे हैं। पार्टी को इतनी बड़ी जीत मिलने के बाद अब संगठन में भी बदलाव की प्रक्रिया शुरू होगी। इसमें बड़े उल्टफेर की संभावना बन रही है।

बता दें कि पार्टी के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल पूरा होने के बाद उन्हें लोकसभा चुनाव के दौरान कार्यकाल विस्तार दिया गया था, जो अब 15 जून से पहले समाप्त होने जा रहा है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भाजपा अपने सांकनात्मक ढांचे में परिवर्तन करने की तैयारी में है। इसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर प्रदेशों के संगठन में भी बदलाव किया जाना है। इस बात का एहसास सोमवार को चुनावी समीक्षा की बैठकों के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से हुई बातचीत से लग रहा है। उसके बाद दोनों नेताओं ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। बंद कमरे में करीब पौने दो घंटे तक इनके बीच क्या मंथन हुआ, यह तो पता नहीं, किंतु उसके बाद यह तीनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने पहुंचे l। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री की प्रधानमंत्री से मुलाकात के बीच हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के मौजूदगी किसी बड़े बदलाव की ओर संकेत कर रही है। सूत्र बताते हैं कि उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष या महामंत्री बनाकर संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेवारी दी जा सकती है।

यहां बता दें कि मनोहर लाल खट्टर हरियाणा के मुख्यमंत्री बनने से पहले भाजपा के हरियाणा संगठन मंत्री के तौर पर कई साल कम कर चुके हैं। उसके बाद उन्होंने उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में भी  प्रभारी कार्य किया। उसके बाद हरियाणा में जब वर्ष 2014 में विधानसभा चुनाव हुए तो उन्हें करनाल सीट से विधानसभा चुनाव लड़वाया गया था और जीत के बाद से वे लगातार साढ़े नौ साल तक मुख्यमंत्री के तौर पर कार्य करते रहे। अब लोकसभा चुनाव से पहले उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटकर करनाल संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़वाया गया। तब से यह कयास लगाए जा रहे थे कि पार्टी उन्हें केंद्र में ले जाकर कोई महत्वपूर्ण भूमिका प्रदान करेगी। इसके संकेत चुनाव परिणाम सामने आने से पहले ही मिलने शुरू हो गए हैं।

गौरतलब है कि  पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को का कार्यकाल इस चुनाव तक बढ़ाया गया था। अब उनके स्थान पर नए राष्ट्रीय अध्यक्ष की नियुक्ति की जाएगी। सूत्र बताते की हरियाणा भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की एक पखवाड़े पूर्वी बैठक में भी इस मामले में चर्चा हुई थी। इसमें मनोहर लाल खट्टर और भूपेंद्र सिंह यादव के नाम अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर सामने आए थे। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में जिस प्रकार की चिंतन मंथन का दौर चल रहा है, उससे लगता है कि चुनाव परिणाम आने के कुछ दिनों के भीतर ही यह बदलाव होगा। अब चर्चा है कि मनोहर लाल खट्टर को राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी दे दी जाएगी  सूत्र बताते हैं कि इस संबंध में सोमवार को शाम दिल्ली से मनोहर लाल खट्टर को बुलावा आया। उसके बाद उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बंद कमरे में करीब पौने दो घंटे तक बातचीत की इस बातचीत के बाद यह दोनों नेता अमित शाह से मिले और बाद में अमित शाह समेत तीनों नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जाकर मुलाकात की। तीन महत्वपूर्ण व्यक्तियों द्वारा लंबे समय तक आपस में चली बातचीत और उसके बाद प्रधानमंत्री से उनकी मुलाकात संकेत दे रही है कि जून के दूसरे पखवाड़े में ही यह बदलाव सामने आ जाएगा।

बता दें कि मुख्यमंत्री रहते हुए मनोहर लाल खट्टर अनेक बार अपने आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का डॉक्टर हेडगेवार यूनिवर्सिटी का सहपाठी बताते रहे हैं। खुद प्रधानमंत्री ने भी हरियाणा में दौरे के दौरान मनोहर लाल खट्टर के कामकाज की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि वह और मनोहर लाल दोनों मोटरसाइकिलों पर हरियाणा भर में पार्टी संगठन का प्रचार करने के लिए साथ दौरे करते थे। रोहतक से गुड़गांव, फरीदाबाद अनेक बार मोटरसाइकिल पर भी दोनों का आना-जाना हुआ। यहां बता दें कि बंसीलाल सरकार के समय जब भाजपा और हरियाणा विकास पार्टी का गठबंधन था, उस समय नरेंद्र मोदी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के पद पर आसीन होते हुए उत्तर भारत के प्रभारी थे। उस समय मनोहर लाल खट्टर हरियाणा भाजपा में बतौर संगठन मंत्री काम कर रहे थे। तब से दोनों के बीच आपसी तालमेल बेहतर बना हुआ है। नए घटनाक्रम में लगने लगा है कि अब मनोहर लाल को पार्टी केंद्र में संगठन के जिम्मेवारी देगी। यही कारण है कि हरियाणा में उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटाकर नायब सैनी को मुख्यमंत्री बनाया गया और उन्हें करनाल लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़वाया गया।

 

You Might Also Like

0 Comments

Leave A Comment

Please login to comment on this news

Featured News